खुद के साथ Dating पर गए हो कभी?

Advertisements

अपने उन प्यार भरे लम्हों को याद कीजिये जो आपने अपने जीवन साथी के संग बिताये हैं। वो पल जब आप पहली बार किसी ऐसे व्यक्ति से मिले थे जिसको आप अपनी पूरी जिंदगी समर्पित कर सकते हैं, जिसके साथ अपना हर राज शेयर कर सकते हैं, जिसको खुश रखने के लिए आप कुछ भी कर सकते हैं।

समय बीत जाता है और वो पल एक खुशनुमा याद बनकर रह जाते हैं,  जिंदगी की भागदौड़ के साथ वे पल कहीं पीछे छूट जाते हैं। बच्चे, मित्र, व्यवसाय/नौकरी आदि अनेक चीजें होती हैं जिन्हें हमारा वक्त चाहिए होता है; और कभी कोई वक्त मिल भी जाये तो उनका मूड नहीं बन पाता….. जिनके साथ वो पल बिताने का मन होता है।

ऐसे समय में क्यों न खुद को समय दिया जाय?????

क्यों न कुछ ऐसा किया जाय कि वो पल जिंदगी के बेहतरीन पल बन जाएँ?

तो पेश हैं कुछ Simple-Ideas जो follow कर के खुद के साथ कुछ हसीं पल बिता सकते हैं

किसी खाली दिन में अकेले ही किसी अनजान रास्ते पर अकेले ही निकल पड़ें। ऐसे रास्ते का चुनाव करें जिसमें कोई परिचित व्यक्ति के मिलने की संभावना न हो। अच्छा हो कि शहर से दूर कोई प्राकृतिक स्थल हो या कोई छोटा सा गाँव। शांत भाव से चलते रहें, बिना किसी हड़बड़ी के, आसपास के दृश्यों का मजा लेते हुए। कहीं पहुंचना नहीं है बस खुद तक ही जाना है। अगर अकेलापन महसूस हो तो किसी पेड़ के पास जाकर बैठ जाएँ और उसके साथ अपनी जिंदगी शेयर करें, उसके पत्तों की चरमराहट सुनें और उसमें अपने उत्तर खोजें। या फिर मौन-भाव से उसे निहारते रहें, जैसे अपने प्रेमी की आँखों में झांक रहे हों।

या फिर धरती-मां की प्यारी गोदी में लेट जाएँ और उसकी प्यार भरी ऊर्जा को अपनी देह में प्रवाहित होते हुए महसूस करें। अपने सारे दर्द और तकलीफों को उसी तरह धरती को सुना दें जैसे कभी अपनी जन्मदात्री मां को सुनाया करते थे। उसकी धडकनों को महसूस करें और पूरी तरह खुद को समर्पित कर दें।

कभी लेटे-लेटे ही ऊपर फैले आकाश को निहारें और बादलों के बनते बदलते आकारों को निहारते रहें, प्रकृति की वे अनुपम कलाएं जो किसी फ़िल्मी दृश्य से कम नहीं है।

थोड़ा समय इस ट्रिप में सेवा को भी दें। रास्ते के कुछ कांटे बुहार दें, किसी पेड़ को पानी पिला दें, अगर संभव हो तो कोई नया पौधा लगा दें। बाकी जब आप उस जगह होंगें तो ideas आपको खुद-ब-खुद मिल जायेंगे।

बस एक बात का ध्यान रखें, अपने स्मार्ट-फ़ोन को यथासंभव कम से कम यूज़ करें, अगर हो सके तो उसे घर पर ही छोड़ आयें, या फिर नेट ऑफ करके कॉल्स को साइलेंट मोड पर कर दें। जैसे आपका प्यार dating के दौरान डिस्टर्बेंस पसंद नहीं करेगा, वैसे ही प्रकृति भी उसे नापसंद करेगी।

Have a good day.

agriculture-beautiful-view-city-park-1080722.jpg

Advertisements

3 Comments on “खुद के साथ Dating पर गए हो कभी?

  1. Pingback: प्यार हुआ चुपके से…… – evo4soul

  2. Pingback: LOVE YOU ZINDAGI…LOVE ME ZINDAGI..! – evo4soul

  3. Pingback: 5 शक्तिशाली मंत्र जो बदल सकते हैं हमारी दुनिया – evo4soul

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: